Skip to main content

जब चार लड़कियो ने कहा के चार चीज़ों में सबसे ज्यादा मज़ा है ।

जब लड़कियो ने कहा चार चीज़ों में सबसे ज्यादा मज़ा है ।
   


बात बहुत पुराने जमाने की है के एक गांब में एक राजा रहता था । और बह अपनी प्रर्ज़ा की खुसी के लिए और उन के हाल को जानने के लिए अपना भेष एक ग्रामीण का सा कर के यानि अपना लिबास बदल कर गांब का ब्यौरा यानि घुमा करता था । और लोगो की भी परिक्छा लिया करता था । उस के गांब में  हमेशा खुसी का माहोल रहता  था । उस ने गांब के बच्चों के लिए लड़कियो के लिए अलग और लड़को के लिए अलग सिक्छा प्राप्त करने का बिधायलय बनबा रखा था जिस का भी बह निरखचन् के लिए जाया करता था । एक दिन बह स्कूल का जायज़ा लेने के लिए निकला तो उस ने पहले लड़को के स्कूल में गया और फिर अब लड़कियो के स्कूल में जाने का निश्च्य किया । जब बह जा रहा था तब राश्ते में उसने देखा के चार लड़कियां स्कूल के लिए जा रही है 
              

लेकिन बो कुछ बाते कर रही थी । तो राजा ने इस बात का जायज़ा लेने के लिए की कहि ये बिद्धालय की तो कोई बुराई नही कर रही उन की बातो को ध्यान से सुन्ना सिरु कर दिया । तो उन में इस बात की बहस हो रही थी की सबसे ज्यादा मज़ा किस्मे आता होगा तो उन में से पहले नंबर की लड़की बोली जो की एक उच्च समाज से थी और उन के धर्म में मॉस मछली अंडा की बिलकुल पाबन्दी थी और बो सुद्ध सकहारि थी तो बह कहती है  मुझे तो लगता है के सबसे ज्यादा मज़ा मीट खाने में आता होगा । 
तो दूसरी लड़की जो की एक मुशलमान धर्म से थी और उनके धर्म में जुआ दारू हराम थी तो बह कहती है तुझे कुछ नही आता सबसे ज्यादा मज़ा जो है बो दारू पीने में आता होगा ।
तो तीसरी लड़की बोली तुम दोनों तो पागल हो और तुम्हे कुछ भी नही आता । सबसे ज्यादा जो मज़ा है तो उस में आता है जब दो प्रेमिओ की सादी हो और जब बो रात को मिलते है तो सबसे ज्यादा मज़ा उस में आता है।
जब की उस लड़कि की सदी नही हुई थी लेकिन उस ने दुशरो की तुलना की ।
फिर चौथी बोली तुम सब पागल हो सबसे ज्यादा जो मज़ा है न बो आता है झूट बोलने में ये आप लोग नही जानते की कतना मज़ा आता है । 
राजा इन की सब बातो को सुन रहा था । तो राजा का दीमाक् खराब । राजा सोचता है के इन्होंने जो ये बात कहि है ये किस आधार पर कहि है ? 
तो राजा फिर लड़कियो के कॉलेज नही जाता है और बापस अपने महल चला आता है । महल आते ही अपने एक सैनिक को उन लड़कियो को बुलाकर लाने के लिए कहता है । तो सेनिक तुरंत स्कूल जाता है और उन लड़कियो को लेकर राजा के पास आता है । लड़कियां डरी हुई थी के हमसे कोई गलती तो नही हो गई । फिर राजा ने उनसे कहा । घबराओ नही में आपको कुछ नही करूँगा में तो आपसे उन सबलो के जबाब पूछना चहुँगा जो आज तुम राश्ते में बाते करती जा रही थी । की कैसे आपको दारू मीट और सादी झूट में मज़ा आता है । तो लड़कियो की जान में जान आई राजा ने पहली लड़की से राजा राजा कहता है तुम मीट खाती हो ? 
जी नही में बाह्रामन हु हम मीट नही खाते ।
तो तुम कैसे कह सकती हो की मीट खाने में मज़ा आता होगा ? 
राजा जी मैने कई सिकारियो  को देखा है की जंगल में जाते है परेसान होते है और फिर उसे घर लाते है पकाते है फिर बड़े मज़े से खाते है और जब बह हड्डियों के फेकता है तो उसे कुत्ते बिल्ले खाते है और जब उन से बच जाती है तो उसे फिर कौआ ले जाता है और जब उससे भी बच जाती है तो उसे चेटियां खाती है । राजा बड़ा खुस होता है ।
फिर राजा दुशरी लड़की से पूछता है के आप ने कभी दारू पी हुई है
 ? 


नही राजा जी । मै मुसलमान हु और हमारे मजहब में दारू पीना हराम है ।
तो आपको कैसे पता के दारू में सबसे ज्यादा मज़ा आता है । 
राजा जी मेने देखा है के हमारी बशति में एक एक आदमी है जो बैसे तो इतना टेंसन में रहता है और सब से डरता है उस के पास घर नही है इस और बो सोने के लिए लोगो के घर जाता है और जब बो दारू पि लेता है तो तो जेसे उसे कोई गम ही ना हो और इतना खुस हो जाता है और एक दम बिंदास हो जाता है किसी से नही डरता । और दारू पी कर हर कहि सो जाता है चाहे गंदगी हो या सफाई बो हर कहि गिर जाता है। तो इस तरहा से सायद दारू में मज़ा होगा इसी लिए बो पीता है।
रजा उस की बात से भी बड़े खुस होता है ।
फिर राजा तीसरी से सबाल पूछता है । 
की सादी हो गई ? 



जी नही राजा जी ।
तो आपको कैसे पता के सादी के बाद इंसान का जोड़ा बड़ा खुस रहता है । 
राजा जी मेने देखा है की अधिकतर लोग सादी के बाद खुस रहते है । इसी तरह मेरी बड़ी बहिन के जब औलाद होने को थी तो उस बक्त उस ने कश्म खा ली थी के आज के बाद सम्भोग बिलकुल भी नही करुँगी और जब उसे एक महीना ही हुआ था तब बो उस के पास बापस आ गई और फिर से बो प्यार उनमे सिरु हो गया तो सबसे ज्यादा मज़ा सम्भोग में आता होगा ।
राजा इस बात पर भी बड़ा खुस हुआ और फिर उसने चौथी लड़की से पूछा के ये सब तो ठीक है लेकिन आप को झूट बोलने में कैसे मज़ा आता है ?

राजा सहाब मुझे भगबान दीखता है ।
क्या अब भी दीख रहा है ?
जी राजा साहेब मुझे अब भी दीख रहा है ।
तो क्या मुझे दिखा सकती हो ? 
हाँ क्यों नही ?
तो दिखाइए ।
तो बह राजा के पास जाकर और एक तरफ इसारा करती है और कहती है के देखो बो रहा भगबान ।
नही मुझे नही दिखा कहा है? 
देखो ज़रा धायण से ।
बो .......रहा 
अरे हाँ राजा जी ........
 अगर आप ने रानी के इलाबा किसी और के साथ सम्भोग किया होगा तो आपको नही दिखेगा । 
उस बक्त रानी बही खड़ी हुई थी तो अब राजा को तो हाँ ही कहना पड़ेगा । क्यों की अगर राजा ये कह दे की उसे नही दिख रहा तो रानी समझेगी के इस ने किसी और के साथ सम्भोग किया है इस लिए इसे नही दिख रहा है ।
तो राजा कहता है हाँ...........
अब दिख आया बो रहा भगबान ।
तो  चौथी लड़की बोली आया ना झूट बोलने में मज़ा .....
राजा उस से भी बड़ा खुस हुआ ।
और फिर राजा ने सब को इनाम दे कर सम्मानित किया और फिर उन्हें बापस स्कूल भिजबा दिया ।
THE END
https://www.google.co.in/search?&q=facebook
Post a Comment

Popular posts from this blog

एक गरीब की दर्दनाक प्रेम कहानी ! A dangerous love story

दोस्तो प्यार कुछ चीज़ ही ऐसी बनाई है खुदा ने के जिस को एक बार हो जाता है ना तो उसे अपने महबूब की हर अदा पसंद आती है । 

महबूब की चाल , महबूब की आबाज,
महबूब की आँखे....
दोस्तो उस की तारीफ तारीफ किये जाता है लेकिन बो.....  जो बाकई अपने महबूब से प्यार करता हो । तो उसे अदा पंसद आती है ।
बर्ना आपको तो खूब पता है के आज के नौ जबानों को क्या पसंद आती है ।
चलो जाने दो हम तो हमारी कहानी पर आते है ।
दोस्तो आज मैं एक ऐसी ही कहानी लाया हूं जिसे सच मे पड़ कर आप बर्दास्त नही कर पाएंगे ।
तो चलो अपनी कहानी पर आते है ।

एक शहर में एक बहुत बड़ा  business man  रहता था जो कि साथ मे नामी गुंडो से मिला जुला था । यानी उस की गिनती दबंगो में होती थी । सब उस से डरते थे । उस की एक लड़की जिस का नाम था रीनू । 





रीनू बहुत ही बदमास और  नटखट किस्म की लड़की थी । जो कि हमेसा किसी को ना किसी को छोटी छोटी बात  पर सजा देती रहती थी । रीनू किसी पर भी दया नही करती थी । क्यो की उसे अपने पापा की इस ताकत पर घमण्ड था । बो इंसान को इंसान नही समझते थे । सब से दादागिरी से बात करना । बही दूसरी तरफ एक लड़का था जिस का नाम था सूरज


 सूरज था तो एक…

मुहब्बत की एक अजीबो गरीब प्रेम कहानी ।

दोस्तो आज के इस युग मे आज से क्या बल्कि बहुत पहले से ही जब से ईशबर ने इंसान के सीने में दिल दिया है तब से और आज तक सायद ही ऐसा कोई इंसान हो जिस ने कभी ना कभी किसी से प्यार ना किया हो ....!चाहे बो कैसे भी और किसी भी रूप में हो ।
दोस्तो हर इंसान चाहता है के उस का  पार्टनर खूबसूरत और सुंदर होना चाहिए ।
कोई भी काला या बदसूरत पासन्द नही करता । पर आपको शायद ये पता नही के खूबसूरती तो चंद दिनों की होती है असल तो मुहब्बत कायम रहती है । पार्टनर चाहे कैसा भी हो लेकिन अगर उस के अंदर आपके लिए मुहब्बत है तो आपके पास दुनिया की सारी खुशियां है और मुहब्बत नही है तो उस के पास चाहे दुनिया की सारी दौलत हो लेकिन उस की ज़िंदगी  उसे अच्छी नही लगती ।
दोस्तो आज मैं आपके सामने एक ऐसी ही प्रेम कहानी लेकर आया हु जिसे पड़ कर आप सोचने पर मजबूर हो जाएंगे ।
एक सहर में एक ब्यापारी का लड़का रहता था । जो कि बहुत ही नटखट था । बो बहुत ही सुंदर और चालाक था ।


 हमेसा मौज़ मस्ती । दिन भर दोस्तो के साथ रहना , खाना पीना , आशिकी और दिल लगी करना सब एक खेल सा था उस के लिए  लकडियाँ पटाना । उन से पैसे ऐठना सब उस के लिए आसान था । बो…

गरीब के दिल की ह्मदर्दी । कहानी एक सफर की

दोस्तो ये दुनिया बहुत बड़ी है । और इस दुनिया मे सब तरहा के लोग है ।



जैसे :- अमीर गरीब , काला गोरा , लाम्बा छोटा , मोटा पतला हर तरह के लोग रहते है और दिल सब के पास रहता है लेकिन ना जाने क्यों ये कमबख्त दिल है ना किसी किसी का सिर्फ धडकने का काम करता है और किसी किसी का दिल है जो दो काम करता है ।
एक तो खुद के लिए धड़कता और एक दुसरो के लिए ।
कैसे....????
चलो मैं बताता हूं  कैसे दुसरो के लिए धड़कता है । गर्मियों के दिन थे । स्कूल की छुट्टियां सिरु हो गई तो मैने और मेरे कुछ दोस्तो ने कहि घूमने का पिलान बनाया ।

 मेने अखबार में देखा के एक बस घुमाने के लिए जा रही है जो कि 3 हजार रुपये में एक सप्तहा घुमाएगी । तो मैने मेरे तीन दोस्तो को ये बात बताई और हम तैयार हो गए । हम चारो ने अपने बैग तैयार कर के जयपुर हो लिए राबाना हो लिए  और उस बस बाले से जा मिले जो कि सात दिन के टूर पर जा रही था । हम  चारों ने तीन तीन हजार रुपये जमा करा दिए । हमारे आने से बस की सारी सीटे फुल हो गई और बस राबाना हो गई । मेरे तीन दोस्त एक सीट पर थे और में एक सीट पर बैठा था जिस पर एक अंकल और एक आंटी और एक उनका छोटा सा बेबी था ।…