मैं जानता हूं आप छोटे काम करने के लिए नहीं बने| आप बिजनेस करने के लिए बने हो| तो बिना कोई देरी के जल्दी से BUSINESS सीखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करो।

👉 👉👉   CLICK HERE 👈👈👈






Today I am sharing some 3 best Short Story In Hindi for Kids With Moral Stories for Children In Hindi for all classes 1 to 12.

These short moral stories help to find the answer to the problem of your life.

All the Short stories have a very powerful message and moral behind them.

I hope u like these 3 interesting short stories with morals.


3 short Story in Hindi for kids.


Below we write Hindi short stories with morals for kids.

I Think this inspiration and motivational stories are helping to grow your child full of knowledge and grow of mind in the shortage.

1. एक बूढ़ा आदमी गाँव में रहता था


short stories with moral


#1.) Moral Stories for Children in Hindi

एक गांव में एक बूढ़ा व्यक्ति रहता था वह हमेशा दुखी रहता था। वह अपने आप को सबसे दुर्भाग्यशाली मानता था।

वह हमेशा गांव के लोगों से चिढ कर बात करता। उसके शब्द बहुत जहरीले होते थे। वह अक्सर लोगों की शिकायत ही करता। अब गांव वाले उससे थक चुके थे।और उससे हमेशा बच कर ही निकलते थे।

वह जितना लंबा जीता जा रहा था। उसके अंदर उतना ही पित्त जमा होते जा रहा था उसका साथ एक संक्रामक ( viras ) की तरह था। उसके बगल में खुश होना अपमानजनक था।

वह अक्सर दूसरों को भी दुखी कर देता था

लेकिन एक दिन, जब वह अस्सी साल का हो गया, तो एक अविश्वसनीय बात हुई। कुछ लोगों ने एक अफवाह सी सुनी:


वह बूढ़ा आदमी आज खुश है, वह किसी भी चीज के बारे में शिकायत नहीं करता है, मुस्कुराता है, और यहां तक ​​कि आज उसका चेहरा भी ताजा है। "

पूरा गाँव इकट्ठा होकर उस बूढ़े व्यक्ति के पास गया और उस बूढ़े आदमी से पूछा गया:

गाँव के लोग : आपको क्या हुआ?

"कुछ खास नहीं। अस्सी साल मैं खुशी का पीछा कर रहा था, और यह बेकार था। और फिर मैंने खुशी के बिना जीने का फैसला किया और बस जीवन का आनंद लिया। इसीलिए मैं अब खुश हूं। " - वह बुढा आदमी


कहानी का नैतिक:

खुशी का पीछा मत करो। अपने जीवन का आनंद लें

Moral of the story:

Don’t chase happiness. Enjoy your life.


यह कहानियां जरूर पढ़े ;

शेर और चूहे की सर्वश्रेष्ठ 3 कहानियां
hindi story with moral


2.समझदार आदमी | Short Stories |



short story for kids in hindi

#2.) The short story in Hindi for kids


एक गांव में एक बहुत ही समझदार आदमी रहता था। लोग अक्सर उस समझदार व्यक्ति के पास अपनी समस्या लेकर जाते। लेकिन उनकी समस्या हर बार एक जैसी ही होती।

1 दिन उस समझदार व्यक्ति ने उन लोगों को एक चुटकुला सुनाया हर कोई उसका चुटकुला सुन बहुत जोर से हंसे लगे। लोग की हंसी नहीं रुक रही थी। वह चुटकुला सुनकर

लेकिन कुछ समय के बाद उस समझदार व्यक्ति ने दोबारा वही चुटकुला उन लोगों को सुनाया। दोबारा से यह चुटकुला सुनकर सिर्फ कुछ लोग ही हंसे।

कुछ मिनटों बाद वह समझदार व्यक्ति ने दोबारा वही चुटकुला सुनाया लेकिन इस बार उसका चुटकुला सुनकर कोई नहीं हसा। 

बुद्धिमान व्यक्ति मुस्कुराया और कहा:

“आप एक ही मजाक में बार-बार हँस नहीं सकते। तो आप हमेशा एक ही समस्या के बारे में क्यों रो रहे हैं? "

कहानी का नैतिक:

चिंता करने से आपकी समस्याओं का समाधान नहीं होगा, यह सिर्फ आपका समय और ऊर्जा बर्बाद करेगा।

Moral of the story:

Worrying won’t solve your problems, it’ll just waste your time and energy.



3. मूर्ख गधा | Moral hindi stories |


moral stories for children in hindi
Short child stories with moral

#3.)  Moral short stories for kids and children


एक गांव में एक नमक बेचने वाला रहा करता था वह अपने गधे पर नमक की बोरियां लादकर नमक बेचने ले जाया करता था।

एक बार जब वह गधा नदी पार कर रहा था। तो उसका पैर फिसल कर वह नदी में गिर जाता है। और नमक की बोरी फट कर पानी में गिर जाती है।

और सारा नमक पानी मे गिर जाता है। जब वह गधा उठता है। तब उसे बोरी का बार बहुत हल्का लगता है। जिससे वह गधा बहुत खुश होता है

गधा हर बार एक जैसी ही चाल चलता जब भी वह नमक की बोरी लेकर नदी पार करता उसे वहीं पर गिरा देता।जिसे उसे बोरी का भार बिल्कुल हल्का लगने लगता। 

लेकिन अब नमक के व्यापारी को उसकी चाल समझ आ चुकी थी अगले दिन उसने उस गधे की पीठ पर रुई की बोरी को बांध दिया और हर बार की तरह गधा फिर से पानी में गिरने की एक्टिंग करता है 

लेकिन इस बार उस रुई की बोरी इतनी भारी हो जाती है कि गधे से चला भी नहीं जाता लेकिन वह नमक का व्यापारी उसे पीछे से बहुत दंडे मारता है अब गधे को उसकी गलती का एहसास हो चुका था 

और उस दिन के बाद उसने कभी भी नमक की बोरी को नही गिराया। 

कहानी का नैतिक:

किस्मत आपकी हर बार मदद नहीं करता 

Moral of the story:

Luck won’t favor always.


Summary

Here are we share a quick recap on the 3 best short moral stories in Hindi:


  1. An old man lived in the village
  2. The wise man
  3. The foolish donkey
You have something Special short stories in hindi So please Share on below Comment box.